03 अप्रैल, 2010

थोडा हंस लो

एक शराबी चांद की ओर इशारा करके पूछता है- ये चांद है या सूरज?

दूसरा शराबी- मुझे नही पता, मैं भी इस शहर में नया हूं॥!

------------------------------------------------------------------


अध्यापक (राजू से)- आज का पेपर आसान था या मुश्किल...

राजू (अध्यापक से) पढ़ने में तो आसान था, पर करने में मुश्किल।

------------------------------------------------------------------

संता (बंता से)- किस से बात कर रहे हो।

बंता (संता से)- बीवी से..

संता- इतने..प्यार से?

बंता- तेरी है।

1 टिप्पणी:

  1. jokes aise hain ki padte hi itna hansna aata hai ki log hamein pagal samajte hain. bahot bahot achchhe hain. keep it up.
    satyapal M. Harchandani
    Kubernagar, Ahmedabad.Gujarat

    उत्तर देंहटाएं

Related Posts with Thumbnails